Consumer Forum

उपभोक्ता सम्बन्धी मामलों पर विभिन्न न्यायालयों द्वारा दिए न्यायों की संक्षिप्त जानकारी

खराब HTC मोबाइल के लिए कम्‍पनी पर हुआ जुर्माना

जयपुर निवासी आयुष तान्‍वी ने सत्‍यम इलैक्‍ट्रानिक, जयपुर से HTC ब्रांड का  एक मोबाइल हैण्‍डसैट 10,500 रूपए में खरीदा। मोबाइल खरीदने के बाद से ही दिक्‍कत शुरू हो गई। कभी उसका साफ्टवेयर करप्‍ट हुआ तो कभी उसके मदरबोर्ड को ही बदलना पड़ा। इस तरह से एक मोबाइल को बनवाने के चक्‍क्‍र में आयुष को 8-10 बार सर्विस सेंटर के चक्‍क्‍र लगाने पड़ गए। नए मोबाइल हैण्‍डसेट को यूज करने का सारा उत्‍साह रफूचक्‍क्‍र हो चुका था। जब भी सर्विस सेंटर पर मोबाइल जमा किया गया कोई भी हैण्‍डसेट स्‍टैंडबाय के रूप में तान्‍वी को नहीं दिया गया।।

ऊबने के बाद तंग आकर तान्‍वी जी ने मोबाइल कम्‍पनी और दुकानदार के खिलाफ उपभोक्‍ता फोरम, जयपुर (प्रथम) में मुकदमा दर्ज करा दिया। सुनवाई शुरू हुई। दुकानदार का कहना था कि हम सील किया हुआ सामान बेचते हैं। कम्‍पनी कैसा सामान पैक करती है ये हमारी जानकारी में नहीं रहता है, सामान में यदि दिक्‍कत आती है तो कम्‍पनी का सर्विस सेंटर ही उसे दूर करता है । अत: हमें पक्षकार न बनाया जाए।

फोरम दूसरे पक्षकार की भी दलीलों पर गौर किया। परिवादी के जॉबशीट पर प्रोग्राम एब्‍नार्मल एक्‍जीक्‍यूशन टर्मिनेशन आदि लिखा हुआ। कम्‍पनी ने एक बार नया हैण्‍डसेट देने का वादा भी किया था लेकिन कभी दिया नहीं। जिससे ये साबित होता है कि कम्‍पनी ने न केवल दोषपूर्ण सामान का विक्रय किया बल्कि सेवा में कमी और अनुचित व्‍यापार व्‍यावहार भी किया जिससे परिवादी को मोबाइल सेवाओं से वंचित होना पड़ा।

फोरम ने अपने आदेश में लिखा कि विपक्षीगण मोबाइल की पूरी कीमत 10,500 रूपए शिकायत दाखिल किए जाने की तारीख से 9 फीसदी वार्षिक ब्‍याज की दर अदा करेगा साथ ही मानसिक संताप के 3000 रू व मुकदमें पर आने वाले खर्च के रूप में 2500 रू की धनराशि एक माह के अंदर अदा करेगा। ऐसा नहीं करने पर संपूर्ण राशि 9 प्रतिशत ब्‍याज के साथ लौटानी होगी।

 

वाद संख्या: 901/2012

आयुष तान्‍बी बनाम HTC गुड़गांव, हरियाणा

निस्तारित: 30-07-2012

 

Related posts:

The Author

Ravi Srivastava

विधि व्यवसाय से तकरीबन 16 वर्षों से जुड़े रहे हैं खासकर उपभोक्ता मामलों और सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत आपने अनेक मामलों में गुत्थियों को सुलझाया है, विभिन्न गैर-सरकारी संगठनों से जुड़े रहे हैं सरकारी सहयोग के माध्यम से निवेशकों हेतु जागरुकता कार्यक्रम भी संचालित किए. अब इस मंच के जरिए दूरदराज बैठे अपने पाठ्कों को उपभोक्ता मामलों से जुड़े न्याय निर्णयन से अवगत कराना और उनकी समस्याओं का समाधान करना ही लक्ष्य है. वकालत के पेशे से जुड़े तमाम लोग इस पुनीत कार्य में बिना किसी स्वार्थ के आपके साथ हैं EMail ID- ravi_sriv@rediffmail.com, EMail ID- enquiry@consumerforumonline.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Consumer Forum © 2017 Consumer Forum Online